कंप्यूटर क्या है-Introduction Of Computer In Hindi

0
187
computer kya hai

दोस्तों जैसा कि आप लोगों को पता होगा हम अपनी इस ब्लॉग पर (कोर्स ओन कंप्यूटर कांसेप्ट) की तैयारी कराते है. CCC की तैयारी के लिए हमने अपने ब्लॉग पर बहुत सारे पोस्ट किए हुए हैं हमने बहुत सारे ऑनलाइन टेस्ट भी बनाये हैं जोकि इस के लिए बहुत ही उपयोगी हैं वैसे इस पोस्ट से हम शुरुआत कर रहे हैं सीसीसी के पूरे कोर्स ccc course in hindi बारे में  ये  हमारा फर्स्ट पोस्ट है .इस post में हम  बात करने वाले हैं की कंप्यूटर क्या है(Introduction Of Computer In Hindi).तो चलिए शुरू करते हैं.

 

कंप्यूटर क्या है(Introduction of computer in hindi)

कंप्यूटर चलाना तो आप जानते ही होंगे और आपने अवश्य ही पढ़ा होगा कि कंप्यूटर क्या है(what is computer in hindi) और कंप्यूटर की परिभाषा क्या है(Introduction Of Computer In Hindi) लेकिन
 
 कंप्यूटर की परिभाषा हम कई प्रकार से दे सकते हैं यह शायद आपको ना पता हो की आजकल कंप्यूटर हर क्षेत्र
चाहे वह टेक्नोलॉजी हो चाहे एजुकेशन हो और तमाम प्रकार के ऐसे क्षेत्र हैं जहां पर कंप्यूटर का उपयोग होता है.

 

Ccc Online Test 2019 In Hindi Ccc महत्वपूर्ण

जैसा कि आप लोगों को पता होगा कि कंप्यूटर के जनक हम चार्ल्स बैबेज को जानते हैं. चार्ल्स बैबेज एक बहुत ही विद्वान इंसान थे जिन्होंने कंप्यूटर की खोज की अतः इन्हें हम कंप्यूटर के जनक के नाम से जानते हैं. 

 
कंप्यूटर को हम हिंदी में संगणक के नाम से भी जानते हैं. अब नीचे थोड़ा जान लेते हैं कंप्यूटर की परिभाषा हम क्या दे सकते हैं अतः कंप्यूटर का परिचय क्या है(introduction of computer in hindi).
 

कंप्यूटर का परिचय (computer in hindi)

शुरूआत हम कंप्यूटर की उत्पत्ति से करते हैं की कंप्यूटर शब्द कहां से उत्पन्न हुआ और इसका मतलब क्या है तो हम जानते हैं कि कंप्यूटर क्या है:- कंप्यूटर शब्द की उत्पत्ति कंप्यूट शब्द से हुई है जिसका अर्थ होता है
 
 गिनती करना या गणना करना अतः हम यह कह सकते हैं कि कंप्यूटर शब्द का पूर्ण अर्थ गणना करने वाला हो सकता है अर्थात कंप्यूटर शब्द का अर्थ गणना करने वाला होता है.
 
मुख्यतः कंप्यूटर का आविष्कार गिनती करने के लिए ही किया गया था किंतु बढ़ती हुई टेक्नोलॉजी ने कंप्यूटर को कहां से कहां लाकर खड़ा कर दिया जैसा कि आपको पता होगा की आज हम कंप्यूटर से बहुत सारे ऐसे काम
 
 करते हैं जिन्हें शायद हम 1 दिन में भी ना खत्म कर पाए  उसे हम कंप्यूटर के माध्यम से 1 मिनट में कर लेते हैं
अब थोड़ा जानते हैं कंप्यूटर के ऐसी परिभाषा के बारे में जिसे हम अपनी परीक्षाओं में लिख सकते हैं बाकी मैं 
 
आपसे कहना चाहता हूं कि लिखने वाली परिभाषा से अच्छा है आप परिभाषा को समझने जिससे आप अपने अनुसार कंप्यूटर की परिभाषा को आसानी से लिख ले.
 
कंप्यूटर की परिभाषा:- कंप्यूटर का तात्पर्य एक ऐसे यंत्र से है जिसका उपयोग गिनती करना यांत्रिकी अनुसंधान शोध अधिकारियों में किया जाता है कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का ऐसा संयोजन है जो डाटा को सूचना में परिवर्तित करता है कंप्यूटर शब्द अंग्रेजी के 8 अक्षरों से मिलकर बना है जो के नीचे दिखाया गया है.
 
C – commonly
O – operated 
M – machine
P – particularly
U – used for 
T – technical 
E – education and 
R– research 
 
ऊपर आपने कंप्यूटर की परिभाषा और कंप्यूटर की फुल फॉर्म के बारे में पढ़ ही लिया होगा इस पोस्ट में आपको समझ में आ गया होगा कि कंप्यूटर क्या है.
 
अब आगे हम जानेंगे कंप्यूटर के कुछ विभिन्न विशेषताओं के बारे में जोकि आपके लिए सभी प्रकार के परीक्षाओं और ट्रिपल सी एग्जाम के लिए बहुत ही उपयोगी है.
 

कंप्यूटर की विशेषताएं(characteristics of computer in hindi)

कंप्यूटर की विशेषताओं के बारे में अगर पढ़ें तो बहुत ही पुस्तकों में अलग-अलग प्रकार अलग अलग विशेषताएं है  . हम इस पर इस पोस्ट में कंप्यूटर की कुछ ऐसी विशेषताओं के बारे में जानेंगे जो कि आपको जाने के साथ साथ आपके लिए आपके आने वाले एग्जाम के लिए बहुत ही उपयोगी हैं
 
1. गति (speed):- कंप्यूटर की पहली विशेषता के बारे में हम जानने जा रहे हैं . कंप्यूटर की पहली विशेषता है गति  जो कि कंप्यूटर का सबसे बड़ा गुण है कंप्यूटर का सबसे बड़ा गुण गणना करने की उसकी गति है वास्तव
 
 में कंप्यूटर का निर्माण गणना करने वाली मशीन के रूप में किया गया था कंप्यूटर एक सेकंड में लाखों करोड़ों
गड्नाये कर सकता है .
 
2. भंडारण(storage):- कंप्यूटर की दूसरी विशेषता है उसकी भंडारण क्षमता कंप्यूटर अपनी मेमोरी में बहुत अधिक सूचनाओं का संग्रह आसानी से कर सकता है कंप्यूटर में डाटा सूचना और आंकड़ों के भंडारण की क्षमता
 
  होती है. कंप्यूटर के एक्सटर्नल और इंटरनल मेमोरी में सूचनाओं का संग्रह किया जा सकता है. इन सूचनाओं को हम कंप्यूटर मेमोरी में स्टोर करके रख लेते हैं तो जब भी हम चाहे इसे ओपन करके देख सकते हैं. और जब 
 
भी चाहे हम इन आंकड़ों को जब तक डिलीट ना करे तब तक इनका उपयोग कर सकते हैं. तो कंप्यूटर की भंडारण क्षमता बहुत अधिक होती है जो कि कंप्यूटर की विशेषता में से एक है उसकी भंडारण क्षमता.
 
3.त्रुतिहीनता(accuracy):- कंप्यूटर जो भी कार्य करता है बहुत ही सावधानी से करता है अगर हम कंप्यूटर को गलत निर्देश देते हैं तभी वह हमें गलत इंफॉर्मेशन देता है अगर हम कंप्यूटर को जो इनपुट दे वह 100 परसेंट
 
 सही हो तो कंप्यूटर द्वारा दिया गया आउटपुट सौ परसेंट सही होगा जो कि कंप्यूटर की एक बहुत बड़ी विशेषता है इस विशेषता को हम कंप्यूटर की त्रुटि हीनता कह सकते हैं इसका मतलब कंप्यूटर त्रुटिहीन होता है जब तक हम उसे गलत input डाटा नहीं देते तब तक हमें गलत इंफॉर्मेशन नहीं दे सकता.
 
4.स्वचालन(automation):- अगर हम कंप्यूटर को कोई निर्देश देते हैं तो उस निर्देश पर प्रोसेस करने के लिए हमें कंप्यूटर पर कोई छेड़खानी नहीं करनी पड़ती बल्कि वह कंप्यूटर खुद ही कर लेता है इसका मतलब यह है
 
 कि कंप्यूटर स्वचालित मशीन है जो डाटा पाए जाने पर उस पर खुद ब खुद वर्क करके हमें सही इंफॉर्मेशन देता है अतः हम कंप्यूटर को स्वचालित मशीन कह सकते हैं अथवा कंप्यूटर एक स्वचालित मशीन है.
 
5.सार्वभौमिकता(versatillity):- जब हम किसी कंप्यूटर पर कोई कार्य करते रहते हैं तो अचानक हमें किसी दूसरे काम की याद आ जाती है जो कि बहुत इंपोर्टेड रहता है तो हम उसे भी साथ ही में कर सकते हैं क्योंकि कंप्यूटर एक साथ कई कार्य कर सकता है जो कि उसका सार्वभौमिक गुण कहलाता है.
 
6.सक्षमता(dilligence):-जब भी मौसम खराब हो जाता है तब मानव जीवन पर अथवा मानव के कार्यों में कुछ ना कुछ व्यवधान जरूर आता है लेकिन कंप्यूटर के साथ ऐसा नहीं है कंप्यूटर किसी भी मौसम किसी भी
 
 परिस्थिति में कोई भी कार्य करने के लिए सक्षम है और एक बार नहीं किसी काम को अनंत बार कर सकता है या एक काम को कर बार-बार करने में उबता नहीं है तो हम कह सकते हैं कि कंप्यूटर की सक्षमता भी उसकी एक बहुत बड़ी विशेषता है.
 

कंप्यूटर की सीमाएं(Limitation of the computer):-

मनुष्य दुनिया का कोई ऐसा काम नहीं है जो नहीं कर सकता लेकिन अगर वह लगातार काम करता रहता है तो वह जल्द ही थक जाता है और उसे आराम की जरूरत पड़ती है तो जिस प्रकार मनुष्य को आराम की जरूरत
 
 पड़ती है उसी प्रकार कंप्यूटर को आराम की तो नहीं लेकिन कुछ सीमाएं भी उसकी भी हैं जो उसके लिए बहुत ही आवश्यक है,
 

कंप्यूटर की सीमाएं(limitation of computer in hindi) निम्न प्रकार है

1. बुद्धिहीन:- कंप्यूटर बुद्धिहीन है वह कुछ चीजें सोच नहीं सकता कुछ समझ नहीं सकता हम कंप्यूटर को जो निर्देश देते हैं वह उसी पर वर्क करता है और एक प्रोग्राम के मुताबिक वह हमें process  करके रिजल्ट देता है
 
 अतः कंप्यूटर केवल हमारे दिए गए निर्देशों पर ही कार्य करता है वह अपने आप से कुछ सोच और समझ के कुछ नहीं कर सकता.
 
2. विद्युत पर निर्भर:-  जिस प्रकार मनुष्य को एनर्जी की जरूरत पड़ती है .उसी प्रकार कंप्यूटर को भी एनर्जी की जरूरत पड़ती है .मनुष्य अपनी एनर्जी भोजन से लेता है .और कंप्यूटर अपनी एनर्जी बिद्युत के माध्यम से  लेते है .
 

कंप्यूटर के उपयोग (Uses of computers in hindi) 

अब हम कंप्यूटर के उपयोग के बारे में जानने वाले हैं आखिर कंप्यूटर का उपयोग क्या है कंप्यूटर के उपयोग के बारे में हम आपको जितना बताएं उतना ही कम है क्योंकि आजकल हर जगह कंप्यूटर का उपयोग होने लगा है.

 अगर आप कहीं पर भी कुछ सामान खरीदने जाते हैं अच्छी दुकानों पर  भी कंप्यूटर का उपयोग आजकल होने लगा है और हर प्रोफेशनल जगहों पर भी कंप्यूटर का उपयोग  होता है. आपके आसपास स्कूलों, कालेजों ,दुकानों

 ऑफिस….. यहां तक कि आजकल स्टूडेंट्स भी कंप्यूटर का उपयोग करने लगे हैं. तो चलिए कंप्यूटर के उपयोग के बारे में कुछ विस्तार से जानते हैं कुछ headings के माध्यम से जानते हैं कंप्यूटर का प्रयोग कहां और क्यों कैसे होता है.

 

1.शिक्षा :- शिक्षा के क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग बहुत जरूरी हो गया है क्योंकि बढ़ते कंपटीशन के दौर में समय बहुत कम रहता है तो स्टूडेंट्स को बुक आदि खरीदने के लिए दूर-दूर भटकना पड़ता है लेकिन अब  ये छोटी बात हो

 गई है क्योंकि आजकल सारी किताबें इंटरनेट पर मौजूद है जो कि कंप्यूटर के मोबाइल के माध्यम से स्टूडेंट आसानी से डाउनलोड करके अब किताबों को भी पढ़ सकता है.

2. बैंक :- बैंकों में घुसने के बाद तो आपको कंप्यूटर के सिवा कुछ दिखता ही नहीं है वहां पर जितनी machine आपको दिखाई देती हो सब कंप्यूटर से बिलॉन्ग करती हैं चाहे आप एटीएम से पैसे निकले, चाहे आप ग्रीन कार्ड द्वारा

  पैसे बैंक में डालें, चाहे आप पैसे गिनने वाली मशीन देखें, चाहे आप पासबुक प्रिंट करने वाली मशीन देखें सभी मशीनें एक प्रकार की कंप्यूटर ही हैं.

3. संचार ;-संचार के क्षेत्र में भी कंप्यूटर का उपयोग तेजी से बढ़ता जा रहा है आज संचार के क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग होता है जैसे कि आप मोबाइल को ही देख लीजिए मोबाइल से आप किसी से भी बात कर लेते हैं

 मोबाइल से व्हाट्सएप से मैसेज भेज सकते हैं और भी बहुत सारी टेक्निकल चीजें कर सकते हैं यह भी एक संचार का माध्यम है तो आप इस माध्यम से परिचित हैं तो इसके क्षेत्र में आप अंदाजा लगा सकते हैं कि संचार के क्षेत्र में कंप्यूटर का कितना उपयोग हो रहा है.

4. चिकित्सा :- चिकित्सा के क्षेत्र में भी कंप्यूटर का उपयोग विभिन्न प्रकार के रोगों का पता लगाने के लिए,तथा  कंप्यूटर द्वारा हमारे शरीर की जांच किया जाता है. एक्सरे सीटी स्कैन जांच आदि में कंप्यूटर  कंप्यूटर का उपयोग होता है.

5.सुरक्षा :-  आपको चाहे पता हो या ना हो लेकिन कंप्यूटर आप की सुरक्षा भी बहुत सावधानी से करता है आपको शायद ना पता हो कि एयरक्राफ्ट को ट्रैक करने हवाई हमले आदि में  कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जाता है. जैसे कि आप की सुरक्षा भी होती है.

ऐसे ही बहुत सारे क्षेत्र हैं जिसमें कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है जैसे कि मनोरंजन ,वायुयान तथा रेलवे आरक्षण, प्रशासन क्षेत्र….. ऐसे बहुत सारे क्षेत्र जहां पर कंप्यूटर का उपयोग होता है.

आजकल तो कंप्यूटर का उपयोग तेजी से ई कॉमर्स के छेत्र में बढ़ता जा रहा है आप जब भी ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं तो वहीं ई-कॉमर्स कहलाता है तो आपको पता होगा कि कंप्यूटर का उपयोग ई-कॉमर्स के छेत्र में कितनी तेजी से बढ़ रहा है. 
 

कंप्यूटर काम कैसे करता है

कंप्यूटर का काम करने का तरीका कुछ ऐसा है कि वह सिर्फ तीन काम काम करता है. पहला इनपुट लेता है दूसरा हमारे द्वारा दिए गए इनपुट प्रोसेस करता है तीसरा प्रोसेस के द्वारा निकाले गए हाल को आउटपुट के
 
 माध्यम से हमें दिखाता है. जितना आपको बताया गया कंप्यूटर का काम यही है हम कंप्यूटर को जो आदेश देते हैं उसे इनपुट कहा जाता है फिर कंप्यूटर उसको अपने माइंड के हिसाब से उस पर फूल पेश करता है जिसको

 

 प्रोसेसिंग कहा जाता है उसके बाद जो पूरा प्रोसेस कर लेता है उसके बाद जो हमें रिजल्ट मॉनिटर के माध्यम से दिखाता है उसे आउटपुट कहा जाता है

 

कंप्यूटर की संरचना (computer architecture)

कंप्यूटर के विभिन्न प्रकार के अवयव और उनके बीच में जो संबंध होता है उसे कंप्यूटर की संरचना कहते हैं. लगभग जितने भी कंप्यूटर हम यूज करते हैं या अपने अगल-बगल देखते हैं सबकी संरचना एक ही तरह की होती है. जो कि निम्नलिखित दर्शाई गई है. 
https://www.wikigyani.in//2019/03/computer-kya-hai-introduction-of-computer-in-hindi.html

 

कंप्यूटर की संरचना के साथ कंप्यूटर के मुख्य रूप से 3 भाग होते हैं. 
 
1.इनपुट आउटपुट यूनिट 
2.सेंट्रल प्रोसेसिंग 
3. मेमोरी यूनिट 
 
यहां input का मतलब यह है कि जो कंप्यूटर को हम निर्देश देते हैं जैसे हम  कीबोर्ड के माध्यम से कुछ टाइप करते हैं तो वह एक इनपुट हुआ. कंप्यूटर में बहुत सारे इनपुट डिवाइसेज होते हैं जैसे 
 
1.कीबोर्ड 
2.माउस 
3.स्केनर… आदि 
 
उसके बाद हम जानेंगे कि आउटपुट यूनिट क्या होता है कंप्यूटर जो हमारे द्वारा दिए गए इनपुट पर जब अपना प्रोसेस करके हमे जो रिजल्ट देता है उसे आउटपुट कहते हैं कंप्यूटर आउटपुट हमे  आउटपुट डिवाइसेज के माध्यम से देता है जैसे कुछ आउटपुट डिवाइसेज निम्न  है.
 
मॉनिटर प्रिंटर… आदि 
 
उसके बाद में बात करते हैं सेंट्रल प्रोसेसिंग के बारे में को कहते हैं जो कंप्यूटर का दिमाग होता है जो हमारे द्वारा दिए गए इनपुट को सोच समझ कर उसका प्रोसेस करता है उसके बाद उसका आउटपुट आउटपुट डिवाइस को देता है हमें दिखाने के लिए. 
 

कंप्यूटर के लाभ 

कंप्यूटर से सबसे लाभ है समय की बचत कंप्यूटर के चाहे हमें कोई लाभ हो या ना हो लेकिन समय के बजे जरूर होते हैं कंप्यूटर बहुत तेजी से काम करता है और बड़े बड़े कामुक को चुटकियों में खत्म कर देता है. पहले के
 
 समय में जो काम दिन भर भी नहीं खत्म किए जा सकते थे आज कंप्यूटर के माध्यम से कुछ ही मिनटों में कर दिए जाते हैं. कंप्यूटर से आज बहुत सारे लाभ है जो कि निम्नलिखित दर्शाया गया है.
 

कंप्यूटर के लाभ और हानि(computer advantages and disadvantages in hindi)

कंप्यूटर के लाभ:-

1.कंप्यूटर हमारे बहुत से बड़े बड़े कामों को चुटकियों में खत्म कर देता है यही कारण है कि कंप्यूटर आजकल हर जगह उपयोग होने लगा है. 
 
2. आजकल हर चीज हमें कंप्यूटर पर ही mil जाता है और हम जितना चाहे उतना डाटा कंप्यूटर में स्टोर करके रख सकते हैं और जब चाहे उसे देख सकते हैं. 
 
3. आजकल कंप्यूटर से हम अपने दोस्तों रिश्तेदारों चाहे जिस से ऑनलाइन बातें कर सकते हैं. 
 
5. आप जब चाहे कंप्यूटर के माध्यम से अपने बैंक से पैसे किसी को ट्रांसफर कर सकते हैं या आप घर बैठे अपने पैसे अपने बैंक से निकाल सकते हैं. 
 
6. आजकल आप कंप्यूटर के माध्यम से घर बैठे शॉपिंग कर सकते हैं. जब चाहे जो सामान online अपने घर पर पा सकते हैं 
 
7. आजकल खाना भी आप ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं जो कि कंप्यूटर के बिना असंभव था. 
 
8. शिक्षा के क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग करता है जा रहा है आजकल तो कंप्यूटर पर छेद में लोग पीएचडी भी कर रहे हैं. 
 
9. कंप्यूटर के क्षेत्र में कंप्यूटर के होने से नौकरियों में भी बहुत ज्यादा बढ़ोतरी हो रही है. आता कंप्यूटर रोजगार का भी साधन बनता जा रहा है. 
 
10. आजकल आप कंप्यूटर से ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं.

 

कंप्यूटर के हानि:-

 1.अगर हम किसी चीज को लिमिट में यूज करते हैं तो उसका फायदा होता है अगर लिमिट से ज्यादा यूज करते हैं तो उसका नुकसान भी होता है सेम उसी प्रकार अगर हम कंप्यूटर को लिमिट में यूज करते हैं तो हमें
 
 कोई नुकसान नहीं होता लेकिन हम अगर लिमिट से ज्यादा ही तो हमारी आंखों पर प्रभाव पड़ता है और हमारी सेहत पर भी प्रभाव पड़ता है. 
 

2. कंप्यूटर से बहुत सारे बच्चे एडिक्ट भी हो जाते हैं बहुत सारे बच्चे कंप्यूटर पाने के बाद उस पर के बगैर अकेले लगते हैं जिससे वह एडिट हो जाते हैं और सारे काम छोड़ कर वह दिन भर कंप्यूटर पर ही लगे रहते हैं इससे आपको बचाव करना चाहिए.

सारांश :- आज हमने पढ़ा कंप्यूटर के बारे में बहुत सारी जानकारी हमने ऊपर पड़ चुकी हैं जो कि आपके लिए हर एक्जाम और खास करके ट्रिपल सी एग्जाम के लिए बहुत ही आवश्यक है ऐसी की जानकारी पाते रहने के लिए हमारे वेबसाइट पर विजिट करते रहे. धन्यवाद

हमने ऊपर टॉपिक को कवर किया है:- जोकि हैं कंप्यूटर क्या होता है, कंप्यूटर की परिभाषा क्या होती है, कंप्यूटर का परिचय क्या होता है,introduction of computer in hindi, आशा करता हूं कि सारे टॉपिक आपको पसंद आएंगे ऐसे ही मैं बहुत सारे टॉपिक्स ट्रिपल सी एग्जाम के रिलेटेड और बहुत सारे कंप्यूटर एग्जाम से रिलेटेड लाता रहूंगा.

विडियो :- कंप्यूटर क्या है-Introduction Of Computer In Hindi से रिलेटेड जानकारी लेने के लिए और नीचे वीडियो भी देख सकते हैं यहां पर आपको सारी जानकारियां मिल जाएंगे.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here